सहारनपुर पुलिस ने किया बड़ा खुलासा

सहारनपुर/
प्रसव लिंग निर्धारण पर प्रतिबंध के बावजूद भी कुछ लोग पैसा कमाने के चक्कर में फर्जी तरीके से अल्ट्रासाउंड मशीने लगाकर लिंग परीक्षण के नाम पर अच्छा खासा पैसा कमा जनता को बेवकूफ बनाकर लूटने का काम कर रहे हैं।ऐसा ही एक मामला यहां पंजाबी बाग में भी देखने को मिला,जहां पर थाना सदर पुलिस ने पीसीपीएनडीटी की संयुक्त टीम के सहयोग से इस फर्जी अल्ट्रासाउंड सेंटर पर छापा मारकर दो लोगों सचिन पुत्र उधम सिंह निवासी ग्राम जुखेडी थाना गंगौह एवम रोकी पुत्र बाबूराम ग्राम जैहरा थाना गंगौह को गिरफतार किया गया।जहां मोके से लिंग परीक्षण से कमाए गए 49,500 रूपए नकद,एक अल्ट्रासाउंड मशीन,दो जैल की शीशी,एक आईपेड तथा दो मोबाइल सेमसंग कम्पनी के मिले।

जिसका खुलासा आज एसपी सिटी अभिमन्यु मांगलिक द्वारा भी पत्रकारो के समक्ष किया गया।पकड़े गए दोनों अभियुक्तों ने पुलिस टीम को बताया,कि हम दोनों व हमारा साथी जो अलग अलग अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर गर्भवती महिलाए जो अपना अल्ट्रासाउंड कराने आती है,उनकी जानकारी कर हमें देता है,और वह भी इस अपराधिक षड्यंत्र में हमारा सहपाठी है।हम तीनों मिलकर इस वायरलेस अल्ट्रासाउंड मशीन व आईपेड का प्रयोग कर गर्भवती महिलाओं का भ्रूण परीक्षण कर गर्भ में लड़का है या लड़की जांच करके बताते हैं ।आपको यह भी बता दें,कि जब छापेमारी के बाद डाक्टरों की टीम ने इनसे अल्ट्रासाउंड चलाने का लाइसेंस मांगा,तो इनके पास लाइसेंस भी नहीं मिला,जिससे साफ जाहिर होता है,कि यह लोग फर्जी तरीके से यह अल्ट्रासाउंड सेंटर चला रहे थे।पुलिस ने इस अल्ट्रासाउंड सेंटर में रखा सभी सामान अपने कब्जे में ले लिया है।मोके पर छापेमारी के दौरान थाना सदर बाजार प्रभारी प्रवेश सिह,सब इंस्पेक्टर धीरज सिह व उनकी पुलिस टीम के अलावा पीसीपीएनडीटी की टीम जिसमें डिप्टी सीएमओ डा, कुणाल जैन के अलावा अन्य डाक्टर भी मोजूद रहे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *