हरियाणा पुलिस द्वारा चलाए गए नाईट डोमिनेशन अभियान के तहत प्रदेश भर में लगभग 42 हजार वाहनों को किया गया चैक

  • प्रदेश भर में नाके व गश्त लगाकर चलाया गया चैकिंग अभियान, 1283 वाहन चालकों के खिलाफ की गई कार्यवाही

चंडीगढ़, 19 सितंबर। हरियाणा पुलिस द्वारा आपराधिक गतिविधियो की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे नाइट डोमिनेशन अभियान के तहत गत रविवार रात्रि को प्रदेश भर में लगभग 42 हजार वाहनों की चैकिंग की गई। इसके अलावा, 1093 वाहनों के चालान, 105 वाहन जब्त तथा 97 एफआईआर दर्ज की गई। इस प्रकार कुल मिलाकर 1283 वाहन चालकों के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की गई।

इस बारे में जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि हरियाणा पुलिस द्वारा रात्रि के समय लोगों को सुरक्षित माहौल देने के उद्देश्य से प्रतिमाह नाईट डोमिनेशन अभियान चलाया जाता है। इस अभियान के तहत हरियाणा पुलिस द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में पुलिसकर्मियों की टीमें गठित करते हुए नाके लगाकर तथा गश्त आदि करके सुनियोजित ढंग से चैकिंग अभियान चलाया जाता है ताकि आपराधिक गतिविधियों पर रोक लगाते हुए अपराधियों के मन में पुलिस का भय उत्पन्न हो। इसी श्रृंखला में 16 सितंबर की रात्रि को भी प्रदेश में नाईट डोमिनेशन अभियान चलाया गया।

आंकड़े सांझा करते हुए उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत प्रदेश में 3 हजार 264 सार्वजनिक स्थानों की चैकिंग की गई। प्रदेश में इस अभियान के तहत 16 सितंबर की रात्रि को 14 हजार 554 दुपहिया वाहन, 13 हजार 572 गाड़ियों, 7 हजार 510 लाइट कर्मिशियल व्हीकल तथा 6 हजार 164 हैवी कर्मिशियल वाहनो की चैकिंग की गई। अभियान के तहत प्रदेश भर में 1411 शराब की देसी बोतलें, 113 अंग्रेजी शराब की बोतलें, 45 बोतल बियर तथा 5 बोतल अवैध शराब की पकड़ी गई।

उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस द्वारा समय समय पर इस प्रकार के अभियान आगे भी जारी रहेंगे। अभियान के तहत रात्रि के समय यात्रा करने वाली महिलाओं की सुरक्षा पर भी विशेषकर तौर पर ध्यान केन्द्रित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस प्रकार के अभियान से जहां एक ओर अपराधियों पर नकेल कसने में मदद मिलती है वहीं दूसरी ओर आमजन को भी सुरक्षित वातावरण मिलता है। उन्होंने बताया कि हरियाणा पुलिस द्वारा वर्तमान में महीने में दो बार यह अभियान शनिवार व रविवार को रात्रि 10 बजे से प्रातः 4 बजे तक यह अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लोगों को भयमुक्त वातावरण देने के उद्देश्य से इस अभियान को चलाया जा रहा है।

उन्होंने आमजन का आह्वान करते हुए कहा कि वे समाज के प्रति अपना नैतिक उत्तरदायित्व निभाते हुए असामाजिक गतिविधियों की जानकारी पुलिस के साथ सांझा करें ताकि प्रदेश में आपराधिक गतिविधियों को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन आमजन को सुरक्षित वातावरण देने के लिए वचनबद्ध है और अपराध और अपराधियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए काम कर रहा है। उन्होंने विशेषकर महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि वे स्वयं को हैल्पलाइन नंबर-112 पर पंजीकृत करें ताकि जरूरत पड़ने पर जल्द से जल्द उनकी सहायता की जा सके।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *