सपा व बसपा छोड़कर सैंकड़ों लोगों ने की कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के पूर्व सदस्य व पूर्व जिलाध्यक्ष
जावेद साबरी के समक्ष सपा, बसपा व भाजपा के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने
कांग्रेस की नीतियों में विश्वास जताते हुए कांग्रेस में शामिल होने की
घोषणा की। कार्यक्रम में वक्ताओं ने नागरिकों से संविधान की रक्षा के लिए
एकजुट होने का आह्वान किया। स्थानीय खाताखेड़ी सलमान कालोनी में मौहम्मद
सलमान के आवास पर आयोजित बैठक में सपा, बसपा व भाजपा के सैंकड़ों
कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की जिनका पूर्व जिलाध्यक्ष
जावेद साबरी ने कांग्रेस का पटका पहनाकर स्वागत किया। कार्यक्रम को
सम्बोधित करते हुए ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के पूर्व सदस्य जावेद साबरी
ने कहा कि जिस तरह लोग तेजी से कांग्रेस के साथ जुड़ रहे हैं, उससे साबित
होता है कि आने वाला समय कांग्रेस का है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने
सदैव सभी धर्म व जाति के लोगों को साथ लेकर देश का विकास करने का काम
किया है तथा गांधी परिवार ने भी देशहित में कई बार अपनी कुर्बानियां दी
हैं। उन्होंने बसपा को भाजपा की बी टीम बताते हुए कहा कि बसपा ने
धारा-370 हटाने समेत कई मामलों में भाजपा का समर्थन किया है जिससे साबित
होता है कि बहुजन समाज पार्टी भी फासिस्टवादी ताकतों से मिली हुई है।
उन्होंने कार्यकर्ताओं से आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटने का
आह्वान किया ताकि केंद्र में धर्मनिरपेक्ष दलों की सरकार बनाई जा सके।
उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा की केंद्र सरकार संविधान व लोकतंत्र को
समाप्त करने पर तुली हुई है जिसके खिलाफ कांग्रेस जनता को जागरूक करने का
काम कर रही है। उन्होंने आगामी 3 अगस्त को जनमंच सभागार में आयोजित होने
वाली संविधान संकल्प रैली में भी भारी संख्या में भीड़ जुटाने का आह्सान
किया। अल्पसंख्यक कांग्रेस के प्रदेश महासचिव सोनू पठान ने कहा कि केंद्र
व उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकारें दलित व अल्पसंख्यक विरोधी हैं। भाजपा
सरकारों में दलितों व अल्पसंख्यकों का सर्वाधिक उत्पीड़न व शोषण हो रहा
है। इसलिए दलितों व अल्पसंख्यकों को एकजुट होकर आगामी लोकसभा चुनाव में
भाजपा के खिलाफ मतदान करने की आवश्यकता है ताकि देश की जनता को भाजपा से
निजात दिलाई जा सके। अल्पसंख्यक कांग्रेस की जिलाध्यक्ष डा. यासमीन राव
ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के शासनकाल
में महिलाओं का सर्वाधिक उत्पीड़न हो रहा है। मणिपुर की घटना इसका जीता
जागता उदाहरण है। उन्होंने कहा कि मणिपुर की घटना पर प्रधानमंत्री
नरेंद्र मोदी की चुप्पी शर्मनाक है जिसका खामियाजा भाजपा को आगामी लोकसभा
चुनाव में भुगतना पड़ेगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला उपाध्यक्ष आरिफ खान
व संचालन डा. रिजवान ने किया। कार्यक्रम में हाजी शौकत अली, कुरबान अहमद,
शाहनवाज, आसिफ, तालिब, मुंतजीर, समीर राजपूत, गफ्फार, अब्दुल रज्जाक,
साइम, मुर्सलीन, इरफान, राजा, साजिद, तनवीर, शौकीन, अली अहमद, आलम, बुंदू
हसन, नसीम, कयूम, जहांगीर, वासिल आदि सहित सैंकड़ों लोगों ने कांग्रेस में
शामिल होने की घोषणा की।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *